1. Posts tagged as: Aarti

ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी जय जगदीश हरे भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे ||  जो ध्यावे फल पावे, दुख बिनसे मन का स्वामी दुख बिनसे मन का सुख सम्पति घर आवे, कष्ट मिटे तन का ||ॐ जय जगदीश हरे ||मात पिता तुम मेरे, शरण गहूं म[...]

Read More »

ॐ जय लक्ष्मी माता,  मैया जय लक्ष्मी माता । तुमको निशदिन सेवत, हर विष्णु विधाता ॥ उमा, रमा, ब्रह्माणी, तुम ही हो जग-माता । सूर्य चन्द्रमा ध्यावत, नारद ऋषि गाता ॥ ॐ जय लक्ष्मी माता ॥ दुर्गा रुप निरंजनि, सुख-सम्पत्ति दाता । जो को‌[...]

Read More »

Latest Posts